सिटिंग सांसदों के टिकट कटने की संभावना पर भाजपा नेताओं ने दिल्ली में डारा डेला

ब्रेकिंग राजनीति

 

सिटिंग सांसदों का टिकट भाजपा काट सकती है जिसको लेकर भाजपा नेताओं ने दिल्ली में डेरा डाल दिया है

अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र की टिकट पर प्रबल दावेदारी पेश कर रहे अनिल शुक्ला वारसी, मौजूदा सांसद देवेन्द्र सिंह भोले, अभिजीत सिंह सांगा आदि भी दिल्ली में।

कानपुर-कांग्रेस ने कानपुर की दोनों सीटों से अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया और वह लोग प्रचार प्रसार करने में लग गये वहीं भाजपा ने अभी तक प्रत्याशियों के नाम का ऐलान नहीं किया इसी बीच यह खबर आने लगी कि सिटिंग सांसदों का टिकट भाजपा काट सकती है जिसको लेकर भाजपा नेताओं ने दिल्ली में डेरा डाल दिया है और हाईकमान को जीत का गणित समझा रहे हैं_

_पिछले लोकसभा चुनाव में मोदी लहर के चलते भाजपा कानपुर की कानपुर नगर और अकबरपुर सीट पर भारी मतों से जीत दर्ज की थी यह दोनों सीटें उस समय कांग्रेस के पास थी कानपुर नगर से तत्कालीन कैबिनेट मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल सांसद थे और अकबरपुर से पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजाराम पाल सांसद रहे कांग्रेस ने एक बार फिर इन्ही दोनों नेताओं पर भरोसा जताते हुए प्रत्याशी बनाया है और वह लोग चुनाव प्रचार में भी जुट गये हैं वहीं भाजपा ने अभी तक पत्ते नहीं खोले हैं राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि कानपुर सांसद व वरिष्ठ नेता डा. मुरली मनोहर जोशी स्वेच्छा से अबकी बार चुनाव नहीं लड़ेंगे वहीं अकबरपुर सांसद देवेन्द्र सिंह भोले का टिकट कट सकता है इन चर्चाओं को देखते हुए शहर के कई दिग्गज भाजपा नेता इन दिनों दिल्ली में अपनी-अपनी टिकट को लेकर डेरा डाले हुए हैं टिकट के दावेदार हाईकमान को मोदी लहर के साथ क्षेत्रीय राजनीति को यह कहते हुए समझाने में जुटे हुए हैं कि अगर हमें टिकट मिला तो जीत तय है_

_नगर लोकसभा क्षेत्र से डा. मुरली मनोहर जोशी की टिकट कटने की स्थिति में सतीश महाना, नीतू सिंह, सुरेन्द्र मैथानी, सलिल विश्नोई और नीरज चतुर्वेदी प्रमुख रूप से दावेदारी पेश कर रहे हैं इसी तरह अकबरपुर लोकसभा क्षेत्र की टिकट पर प्रबल दावेदारी पेश कर रहे अनिल शुक्ला वारसी, मौजूदा सांसद देवेन्द्र सिंह भोले, अभिजीत सिंह सांगा आदि भी दिल्ली में ही हैं टिकट एक या दो दिन में तय हो जायेगी, यह मानकर यह सभी दावेदार बीते तीन-चार दिनों से दिल्ली में डेरा डाले हैं यहां रहकर यह सभी भाजपा की राष्ट्रीय राजनीति में प्रभावी अपने-अपने पैरोकार की गणेश परिक्रमा करने के साथ साथ नित नये नये जुगाड़ भी ढूंढ रहे हैं टिकट पाने के लिये इसके लिये वह नेतृत्व तक पकड़ व प्रभाव रखने वाले मंत्रियों और पार्टी पदाधिकारियों ही नहीं, ब्यूरोक्रेट्स और मीडिया के प्रभावशाली लोगों से भी सम्पर्क साधने के प्रयास कर रहे हैं टिकट के एक ऐसे ही दावेदार ने आशा जतायी कि मंगलवार यानी होली के एक दिन पहले तक पार्टी कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्र की सभी सीटों के लिये प्रत्याशी तय कर देगी ऐसा इसलिये ताकि प्रत्याशी होली के दौरान अपने मतदाताओं के बीच जाकर इस त्योहार का भी चुनावी उपयोग कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *