लालच में मामा ने उतारा भांजे को मौत के घाट, पुलिस ने किया हत्या का खुलासा।

ब्रेकिंग

लखनऊ स्थित चिनहट कोतवाली क्षेत्र में फैजाबाद रोड पर गुरुवार रात ट्रक चालक भांजे हेमंत (35) की हत्या कर आरोपित मामा अपने घर पहुंचा। वहां से बहन को फोन कर बोला कि भीड़ ने तुम्हारे बेटे को पीटकर मार डाला। परिवारीजनों ने डॉयल 100 पर सूचना दी तो घटनास्थल पर पुलिस पहुंचकर शव को ट्रक से पोस्टमार्टम के लिए भेज।

चिनहट कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि ट्रक चालक हेमंत मूल रूप से कानपुर के सजेती रामपुर का रहने वाला था। साथ में उसका मामा संतराम ट्रक पर कंडेक्टर बनकर पहली बार गया था। गुरुवार रात दोनों बहराइच से मौरंग बेचकर लौट रहे थे। तो भांजा हेमंत को नींद आ रही थी तो मामा संतराम से ट्रक चलाने को बोला हेमंत जाकर बगल की सीट पर सो गया था नशे में सन्तराम को पैसे की लालच ने अंधा कर दिया तब सोते समय सन्तराम ने वेलपाना से ताबड़तोड़ लोहे प्रहार कर हेमंत को मार डाला। वारदात को अंजाम देकर वह भाग निकला और हमीरपुर स्थित घर पहुंचा। वहां से उसने सजेती निवासी हेमंत की माँ को फोन कर बताया कि वह दोनों बहराइच से लौट रहे थे। इस बीच लखनऊ में किसी गाड़ी को ट्रक की टक्कर लग गई। इसके बाद भीड़ ने दौड़ाकर पकड़ा और पीट-पीट कर हेमंत की हत्या कर दी।

हेमंत के चाचा को सूचना मिलते उन्होंने भी सीधे कंट्रोल रूम को घटना की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ट्रक की खोजबीन करती हुई कमता पहुंची। ट्रक का केबिन खोला गया तो उसमें हेमंत का शव पड़ा मिला। इंस्पेक्टर ने बताया कि हत्या संतराम ने की है। वारदात के बाद उसने पुलिस को सूचना भी नहीं दी और भाग निकला।

कड़ी मशक्कत के बाद चिनहट कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सचिन कुमार सिंह ने एक टीम गठित किया जिसमें दृतिय निरीक्षक मनोज कुमार सिंह, उ०नि० पन्नेलाला यादव, उ०नि० मनीष वर्मा, हे०का० रामानंद ने दो दिन के अंदर हत्या का मामला खोल दिया जिसमें आरोपी संतराम को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *