अमीनाबाद कोतवाली बना खामियों का खजाना

Article

थाने पर तैनात पुलिसकर्मियों में नही है उच्च अधिकारियों व मीडिया का खौफ

जहाँ एक तरफ पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी आये दिन अपने फरमान में कहते है कि पुलिस थानों और चौकियों में आने वाले फरियादियों को बैठने का समुचित स्थान दे और नम्रतापूर्वक बात कर मामले को हल करें बता दें कि एडीजी जोन एवं लखनऊ कप्तान लगातार लखनऊ की विभिन्न थानों औचक निरीक्षण भी कर रहे हैं लेकिन बता दे कि राजधानी लखनऊ के बहुत भीड़भाड़ वाला क्षेत्र और सबसे ज्यादा व्यस्त थाना अमीनाबाद के कोतवाल साहब को पुलिस के आला अधिकारियों के निरीक्षण का जरा भी खौफ नही है जिसकी ताजी बानगी इस प्रकार है जब हमारे संवाददाता पहुंचे तो पाया कि आगन्तुक कक्ष को भण्डारण कक्ष में तब्दील कर दिया गया है अब ऐसे में सवाल यह है कि आने फरियादी  कहाँ बैठते होंगे कवरेज के दौरान थाने में तैनात होमगार्ड गोपी ने जैसे ही हमारे कैमरा मैंन ने जब इस वाकया को कैमरे में  कैद करना शुरू किया वैसे ही थाने पर तैनात भोला सिंह आग बबूला हो गया और पत्रकार से अभद्रता करने लगा हैरानी तो तब हुई जब कोतवाली गेट ड्यूटी पर तैनात संतरी भी अनुपस्थित पाया गया पूछने पर पुलिस कर्मी ने बताया कि साहब ने संतरी को बुला लिया है ऐसे में सवाल यह है कि यदि कोतवाली पर बदमाश धावा बोल दे तो जिम्मेदार कौन होगा??
उक्त प्रकरण में जब क्षेत्राधिकारी से बात की गई तो उन्होंने ने बताया कि इस प्रकार का कोई भी प्रकरण मेरी जानकारी में नही है साथ ही कहा कि यदि इस प्रकार की अव्यवस्था है तो उसमें सुधार किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *